Friday, January 25, 2019

पहले अंडा आया या मुर्गी, सालों बाद इस सवाल का मिला जवाब, आप भी जानिए

पहले अंडा आया या मुर्गी, सालों बाद इस सवाल का मिला जवाब, आप भी जानिए

मुर्गी

दोस्तों हम सभी के मन मे अक्सर एक सवाल आया है कि इस दुनिया मे सबसे पहले अंडा आया या फिर मुर्गी। क्योंकि बिना अंडे के मुर्गी कैसे, और बिना मुर्गी के अंडे कैसे आ सकते हैं। लेकिन अब सालों बाद इस सवाल का जवाब मिल गया है।

सूत्रों के अनुसार ऑस्ट्रेलिया की क्वीन्सलैंड यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों और फ्रांस के एनईईएल संस्थान ने क्वांटम भौतिकी की सहायता से इस सवाल का जवाब ढूंढ लिया है। भौतिक विज्ञानी जैकी रोमेरो के मुताबिक क्वांटम मैकेनिक्स ये कहती है कि ऐसा किसी नियमित रूप से तय क्रम के बिना हो सकता है। इनके कहने का मतलब है कि दोनों ही चीजे पहले हो सकती हैं। लेकिन दूसरी तरफ अमरीकन फिजिकल सोसाइटी में प्रकाशित इस शोध में बताया गया कि पहली बार अंडा और मुर्गी दोनों ही आये थे।

Tuesday, December 4, 2018

Samsung गैलेक्सी जे6  का 4 जीबी रैम और फेस अनलॉक वाला सबसे सस्ता फोन

Samsung गैलेक्सी जे6 का 4 जीबी रैम और फेस अनलॉक वाला सबसे सस्ता फोन

Samsung गैलेक्सी जे6 साउथ कोरिया की मल्टीनेशनल इलेक्ट्रॉनिक्स निर्माता कंपनी सैमसंग ने अपना नया स्मार्टफोन गैलेक्सी जे6 को बजट रेंज में लॉन्च कर दिया है। इस फोन की खासियत यह है कि यह अकेला ऐसा फोन है जो मात्र 13,990 रुपये के बजट रेंज में 4 जीबी रैम,1.8 गीगाहर्टज का दमदार प्रोसेसर और फेस अनलॉक जैसे फ़ीचर्स दे रहा है।
Samsung गैलेक्सी जे6


क्योंकि इसमें 5.8 इंच का फुल-एचडी+ डिस्प्ले है जिसका रिजोल्यूशन 1080×2160 पिक्सल का हैं। और एक्सिनोस 7870 एआईई ऑक्टा-कोर प्रोसेसर भी दिया गया है। इसके फ्रंट कैमरे के जरिए बोके इफेक्ट वाली फोटोज भी क्लिक की जा सकती हैं।

इसके फ्रंट में एफ/2.0 अपर्चर के साथ 8 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है। वहीं इसके बैक में एफ/1.8 अपर्चर और एलईडी फ्लैश के साथ 13 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है।
Samsung गैलेक्सी जे6

इस स्मार्टफोन को पाॅवर देने के लिए सिर्फ 3000 एमएएच की बैटरी का उपयोग किया गया है। मल्टीटास्किंग के लिए 4 जीबी रैम मौजूद है। इस स्मार्टफोन की स्टोरेज 64 जीबी है जिसे 256 जीबी तक के माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए बढ़ाया जा सकता है।

स्मार्टफोन में एक अलग माइक्रोएसडी कार्ड स्लॉट के अलावा, डुअल सिम स्लॉट भी दिया गया है। इसके अलावा इस स्मार्टफोन में एंड्रॉइड के 8.1 ओरियो ऑपरेटिंग सिस्टम का सपोर्ट भी दिया गया है

क्योंकि इसका वज़न 178 ग्राम है। और इसमे फास्ट चार्जिंग का सपोर्ट नही दिया गया है।

अगर आप इस स्मार्टफोन से यह उम्मीद लगा रहे हैं कि बैटरी को सिर्फ एक बार चार्ज करने पर ज्यादा बैकअप मिलेगा तो आप गलत सोच रहे हैं। क्योंकि इसमें सिर्फ 3000 एमएएच की बैटरी ही दी गई है। जो लगभग 8 घंटे तक चलने में सक्षम है।

अगर मैं इस स्मार्टफोन को खरीदना चाहता हूँ तो मुझे कितने रुपये देने होंगे?

फीचर्स और कीमत को देखे तो काफी अच्छी डील नजर आ रही है। क्योंकि इसकी कीमत 13,990 रुपये है। जो इसे एक बजट स्मार्टफोन बनाती है।
Samsung गैलेक्सी जे6

खास टिप

अगर आप इस स्मार्टफोन को खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो बेहतर होगा कि आप इस बजट में कोई दूसरा स्मार्टफोन न ही खरीदें। क्योंकि इस बजट रेंज में आपको इससे बेहतर स्मार्टफोन आसानी से नही मिलेगा। इसीलिए आप हमारे साथ बने रहिए

Friday, November 30, 2018

उत्तराखंड शिव मंदिर: पैसा चाहिए तो चले आए इस गांव, दूर हो जाएगी आपकी गरीबी

उत्तराखंड शिव मंदिर: पैसा चाहिए तो चले आए इस गांव, दूर हो जाएगी आपकी गरीबी

उत्तराखंड शिव मंदिर

हर इंसान जीवन में पैसा कमाने के लिए जी तोड़ मेहनत करता है, फिर भी अक्सर ज्यादा मेहनत और इन्तजार के बावजूद सफलता नहीं मिलती हैं। अगर आप भी जीवन में पैसा चाहते है तो आपके लिए एक आसान जगह के बारे में बताने जा रहे है जहां जाकर आप अपनी किस्मत का दरवाजा खोल सकते है।

जी हां, अपनी गरीबी से निजात पाने के लिए उत्तराखंड में एक ऐसी जगह है जहां जाने मात्र से आपकी गरीबी दूर हो सकती है। जी हां, हम बात कर रहे हैं उत्तराखंड के चमोली जिले में मौजूद माणा गांव की। इस गांव को शापमुक्त गांव का भी दर्जा प्राप्त है।

माणा पर शिव की महिमा...

माणा को भारत का आखिरी गांव भी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि माणा गांव पर भगवान शिव की ऐसी महिमा है कि यहां आने पर हर किसी की गरीबी दूर हो जाती है। साथ ही ये भी माना जाता है कि शापमुक्त गांव का दर्जा प्राप्त होने के चलते यहां आने वाले लोगों के पाप भी धुल जाते हैं।

गांव पर ईश्वर की कृपा...

ऐसा कहा जाता है कि पुराने जमाने में चमोली जिले में स्थित इस गांव से होकर भारत और तिब्बत के बीच व्यापार होता था। आपको बता दें कि बद्रीनाथ धाम से करीब 3 किलोमीटर दूर स्थित इस गांव का नाम भगवान शिव के भक्त मणिभद्र के नाम पर पड़ा है। इतिहासकारों के मुताबिक, इस गांव में आने के बाद इंसान स्वप्नद्रष्टा हो जाता है। यहां आने के बाद वो अपने जीवन में होने वाली घटनाओं को अनुभव कर सकता है।

भक्त की होने लगी पूजा...

प्राचीन मान्यताओं के अनुसार, ऐसा कहा जाता है कि एक बार माणिक शाह नाम का व्यापारी अपने काम से कहीं जा रहा था। वह भगवान शिव का बहुत बड़ा भक्त था।
रास्ते में लुटेरों ने उसका गला काटकर उसे लूट लिया। गर्दन कटने के बाद भी उसके मुंह से भगवान शिव की प्रार्थना निकली रही थी। अपने भक्त की भक्ति देखकर भगवान शंकर ने उसके वराह का सिर लगा दिया। इस घटने के बाद से वहां मणिभद्र की पूजा होने लगी।

महाभारत की रचना...

भगवान शिव ने माणिक शाह को यह वरदान दिया था कि यहां आने वाले हर इंसान की दरिद्रता दूर हो जाएगी। पुजारी बताते हैं कि अगर आपको पैसे की जरूरत है तो आप यहां गुरुवार को यहां आकर पूजा करने पर अगले गुरुवार तक आपको पैसे मिल जाते हैं।

यहां ऐसी भी मान्यता प्रचलित है कि भगवान गणेश के कहने पर वेद व्यास ने यहीं पर महाभारत की रचना की थी। इसके साथ ही महाभारत की लड़ाई समाप्त होने के बाद पांडव और द्रौपदी के साथ स्वर्गारोहण के लिए यहीं से होकर स्वर्गारोहिणी सीढ़ी तक गए थे।

ऐसे में अगर आप अपनी गरीबी दूर करने के सभी उपायों से थक चुके हैं तो एक बार माणा गांव भी आकर देखिए। क्या पता कि यहां आकर आपकी गरीबी दूर हो सकती है।

Thursday, November 29, 2018

BREAKING: इस राज्य में बहुमत में आ रही है कांग्रेस, भाजपा की हार तय

BREAKING: इस राज्य में बहुमत में आ रही है कांग्रेस, भाजपा की हार तय

BREAKING: इस राज्य में बहुमत में आ रही है कांग्रेस, भाजपा की हार तय

भोपाल। सट्टा बाजार की माने तो मध्यप्रदेश में कांग्रेस बहुमत की तरफ बढ़ती नजर आ रही है जबकि भाजपा चुनाव हार सकती है।

28 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव 2018 के मतदान के बाद सट्टा बाजार का रुख अब बदला हुआ है। 20 दिन पहले तक सट्टा बाजार जिस पार्टी की जीत का दावा कर रहा था, अब माहौल इससे बदलता हुआ नजर आ रहा है। प्रदेश के सट्टा बाजार का मानना है कि भाजपा चुनाव हार सकती है और कांग्रेस जीत रही है।

मध्यप्रदेश में मतदान 28 नवंबर को हो गया है। सट्टा बाजार की माने तो कांग्रेस के पक्ष में हवा है। और वह सरकार बनाने की तरफ आगे बढ़ रही है। इसी लिए कांग्रेस पर ज्यादा पैसा लगाया गया। इसके उलट मतदान आते-आते भाजपा के पक्ष में पैसा कम लगने लगा। सट्टा बाजार में कांग्रेस को पहली पसंद बताते हुए ज्यादा पैसा लगाना शुरू कर दिया।

दूसरी तरफ मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक 20 दिन पहले मध्यप्रदेश के सट्टा बाजार में भाजपा की हवा थी। जबकि हवा का रुख पलटते देर नहीं लगी और सट्टेबाजों ने स्थिति पलट दी। भोपाल का सट्टा बाजार 230 सीटों में से कांग्रेस को 116 से ज्यादा सीटें मिलने का दावा कर रहा है, जबकि भाजपा के पक्ष में 102 सीटें मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। यानी कांग्रेस बहुमत के आंकड़े तक पहुंच सकती है।

20 दिन में बदल गया हवा का रुख

सट्टा बाजार के ट्रेंड के मुताबिक मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा के रेट से यह संकेत मिले थे कि दोनों राज्यों में बीजेपी मुश्किल के बावजूद वापसी कर सकती है। बीजेपी पर 10 हजार रुपए लगाने वाले को पार्टी की जीत पर 11 हजार रुपए मिलने की बातें सामने आई थीं। जबकि यदि कांग्रेस पर कोई 4,400 रुपए लगाने वाले को जीत के बाद 10 हजार रुपए मिलने दिए जाने की खबरें थीं। अब स्थिति पलट गई है। अब कांग्रेस पार्टी पर ज्यादा भाव लग रहे हैं।

बुकी मानते हैं कि 20 दिन पहले उम्मीद थी कि भाजपा मध्यप्रदेश में फिर से सरकार बना रही है, जबकि कांग्रेस की उम्मीद कम है। छत्तीसगढ़ में भी भाजपा जीत हासिल करने का दावा किया गया था। कांग्रेस राजस्थान में आ सकती है। बुकी का कहना है कि टिकट बंटवारे के बाद सट्टे के रेट में अंतर आ गया था। लेकिन, कांग्रेस के प्रचार अभियान को देखते हुए सट्टे बाजार में भी कांग्रेस प्रत्याशियों पर ज्यादा पैसा लगने लगा है। यानी अब कांग्रेस पार्टी की हवा बन रही है।
यह भी कहते हैं सट्टेबाज

-कुछ सट्टेबाज यह भी कहते हैं कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस वापसी करे यह मुश्किल लगता है। क्योंकि भाजपा पर सट्टा लगाने वालों का प्राफिट मार्जिन कम है। और कांग्रेस का ज्यादा है।

-टिकट बंटवारे के बाद हुई उथल-पुथल के बाद रेट में अंतर आ गया है, लेकिन सट्टा बाजार के मुताबिक एमपी-छग में भाजपा और राजस्थान में कांग्रेस का ट्रेंड फिलहाल बदल सकता है।

मुश्किल है सटोरियों को पकड़ना
देश में किसी भी बात पर सट्टा लगाना गैर कानूनी है। सट्टा बाजार कभी दिखता नहीं है, इसलिए इसको पकड़ना बहुत मुश्किल होता है। क्योंकि यह दूर-दराज के स्थानों पर बैठे लोग लगाते हैं, यह मोबाइल फोन से या वेबसाइट के जरिए या आनलाइन मोबाइल एप्लीकेशन से भी लगाया जाता है।

-सट्टा लिखने वाले एक जगह से दूसरी जगह पर मूव करते रहते हैं। ऑनलाइन सट्टा चलती हुई कार, कैफे अथवा शहर के पब्लिक प्लेस से भी संचालित किया जा सकता है, जो किसी की नजर में नहीं आता है। हालांकि भोपाल में हर रोज सट्टेबाजों को पकड़ने की मुहिम चलती है, हर रोज एक-दो प्रकरण दर्ज भी होते हैं।

इंदौर के सट्टा बाजार में कांग्रेस को 116 सीटें मिलना बताया जा रहा है जबकि भाजपा को 100 सीटें ही मिल सकती हैं। सटोरियों ने भाजपा को 100 के भीतर ही सिमट सकती है। जबकि कांग्रेस को 105 से अधिक सीटें मिलना बताया है।

Wednesday, November 28, 2018

23 साल के लड़के ने 91 साल की महिला से हुई शादी, हनीमून के दौरान बिस्तर पर हुआ ये हादसा

23 साल के लड़के ने 91 साल की महिला से हुई शादी, हनीमून के दौरान बिस्तर पर हुआ ये हादसा

23 साल के लड़के ने 91 साल की महिला से हुई शादी, हनीमून के दौरान बिस्तर पर हुआ ये हादसा

लॉ 23 साल के छात्र ने पढ़ाई पूरी करने के लिये 91 साल की वृद्धा से शादी तो कर ली लेकिन उसके बाद जो कुछ हुआ वह जानकर आप दंग रह जाएंगे। जानिए ऐसा क्या हुआ कि लड़का जेल जाते-जाते बच गया।

एक ऐसी शादी हुई है जिसके बारे में जानकर हर कोई हैरान है। अब आपके दिमाग में आ सकता हैं की शादी तो सबकी होती है, इसमें हैरानी वाली क्या बात है? लेकिन जब हम आपको बताएंगे कि इस शादी में दुल्हे की उम्र 21 साल है और दुल्हन 91 साल की है, तो आप भी सोच में जरूर पड़ जाएंगे।

लेकिन इस शादी के बाद हनीमून के दौरान जो कुछ भी हुआ वह जानकर आपके होश उड़ जाएंगे क्योंकि ये शादी कुछ शर्तों पर हुई थी।

दरअसल, अर्जेंटीना से आई इस खबर के बारे में जानकर हर किसी के होश उड़े हुए हैं। अर्जेंटीना में एक 23 साल का लड़का लॉ की पढ़ाई कर रहा था। लड़के की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी लेकिन वह फिर भी अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए जी जान से लगा हुआ था। उसके घर में उसकी मां, भाई के साथ में एक 91 साल की वृद्ध महिला भी रहती थी।

हुआ यूं कि इस 91 साल की बूढ़ी महिला ने लड़के को कहा कि यदि वह उससे शादी कर लेगा तो महिला उसकी पढ़ाई के लिए सारा खर्च देगी। लड़का इस बात को झट से मान गया और 91 साल की बूढ़ी महिला के साथ शादी करने के लिए तैयार हो गया।

ऐसा करने के पीछे 91 साल की बूढ़ी महिला ने बताया कि उसको पेंशन मिलती है और जब उसकी मृत्यु हो जाएगी तो ये पेंशन इस लड़के को मिलनी शुरू हो जाएगी, क्योंकि अब वो उसका पति बन चुका है।.

लेकिन कहानी में उस वक्त अजीब मोड़ आ गया जब 91 साल की बूढ़ी महिला हनीमून मनाने के लिए अपने 23 साल के पति के साथ गयी और बिस्तर पर ही महिला का दम निकल गया। जब लड़के ने पेंशन के लिए आवेदन किया तो अधिकारी उस पर बरस पड़े और यह इल्जाम लगाया कि लड़के ने महिला की सम्पत्ति के लिए उससे विवाह किया था। घटना के बाद लड़का जेल जाते-जाते बच गया।
मध्य प्रदेश पुलिस विभाग में 10वी पास के लिए 15000 पदों पर सीधी भर्ती

मध्य प्रदेश पुलिस विभाग में 10वी पास के लिए 15000 पदों पर सीधी भर्ती

Police Photo

पुलिस विभाग द्वारा मध्यप्रदेश में अनुबंध के आधर पर आरक्षक (जी.डी.) आरक्षक (MT) चालक एवं आरक्षक ट्रेडमेन (अकुशल) के 15000 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए साक्षात्कार कार्यक्रम का आयोजन किया हैं। जिन उम्मीदवारो ने किसी मान्यता बोर्ड से 10वीं,12वीं पास किया हो, वे आवेदन कर सकते है। चयनित उम्मीदवारो को मापदंडो के अनुसार वेतन मिलेगा। यह पोस्ट उम्मीदवारों को अच्छा अनुभव प्राप्त करने का अवसर प्रदान करेगीं।


पोस्ट का नाम – आरक्षक (जी.डी.) आरक्षक (MT) चालक एवं आरक्षक ट्रेडमेन (अकुशल)
कुल पोस्ट – 15000
स्थान – मध्यप्रदेश

योग्यता
इस पोस्ट के लिए आवेदन करना हो तो अभ्यर्थी को मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं,12वीं पास होना ज़रूरी है।

आयु सीमा
इस पोस्ट के लिए आयु सीमा 18 से 35 वर्ष रखी गई हैं।
आवेदन फीस – General/OBC- 520 रुपये, SC/ST-320 रुपये।

अंतिम तिथि
आवेदन करने की तिथि – जनवरी 2019
आवेदन कैसे करे – इच्छुक उम्मीदवार अपने सभी दस्तावेजो के साथ जनवरी 2019 से पहले http://www.home.mp.gov.in/hi इस वेबसाइट से आवेदन कर सकते है।
पीएम मोदी ने दिया राम मंदिर पर एक बड़ा बयान, कांग्रेस में मची खलबली

पीएम मोदी ने दिया राम मंदिर पर एक बड़ा बयान, कांग्रेस में मची खलबली

पीएम मोदी ने दिया राम मंदिर पर एक बड़ा बयान

प्रधानमंत्री मोदी हाल ही में चुनावी रैली के कार्यक्रम को लेकर मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान के अलवर में पहुंचे। जहां पर उन्होंने विपक्ष में बैठी कांग्रेस पर कई करारे हमले किए।

गौरतलब है कि राजस्थान के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस की कड़ी टक्कर में हैं। यही वजह है कि प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस को लेकर कई करारे हमले कर चुके हैं। गौरतलब है कि इसी बीच राजस्थान में एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने राम मंदिर को लेकर भी बड़ा बयान दिया।


दरअसल वर्तमान समय में पूरे देश भर में राम मंदिर को लेकर राजनीति गरमाई हुई है। इसी बीच पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस के कुछ लोग न्यायालय में जाकर यह स्पष्ट तौर पर बोल रहे हैं कि चुनाव 2019 से पहले राम मंदिर का निर्माण नहीं होना चाहिए। ऐसे में भगवान राम और उनके मंदिर को लेकर कांग्रेस की राजनीति और नीति स्पष्ट रूप से समझी जा सकती है।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास आगामी चुनाव में उतरने के लिए कोई भी मुद्दे नहीं बचे हैं। यही वजह है कि कांग्रेसी नेता कभी मोदी की मां को गाली देते हैं तो कभी नरेंद्र मोदी की जाति पूछ बैठते हैं। इससे स्पष्ट होता है कि कांग्रेस के पास समाज में जातिवाद का जहर घोलने के अलावा और कोई काम नहीं है। तथा मुझे तो यह लगता है कि यह काम नामदार के इशारे पर हो रहा है।

हालांकि राम मंदिर के समर्थन में उतरी तमाम राजनीतिक पार्टियां पिछले लंबे समय से राम मंदिर को लेकर प्रधानमंत्री मोदी के मुंह से कुछ सुनना चाहती थी। ऐसे में राम मंदिर को प्रधानमंत्री मोदी का एक लंबे समय बाद चुप्पी तोड़ना आपको किस तरह के संकेत देता है?